यहां जानें साइंस, आर्ट्स या कॉमर्स स्ट्रीम में से किसे चुनें?

10 वीं कक्षा के परिणाम आ चुके हैं और आप में से अधिकांश छात्र भ्रमित हैं कि कॉमर्स, साइंस या आर्ट्स में से किस स्ट्रीम को चुनना है। सही स्ट्रीम चुनना महत्वपूर्ण है क्योंकि यह आपके करियर के निर्माण की दिशा में पहला कदम है।

सीमित संख्या में छात्र इस बात से अवगत होते हैं कि वे किस स्ट्रीम का चयन करना चाहते हैं जबकि बाकी मार्गदर्शन के अभाव में अव्यवस्थित रहते हैं।

आजकल छात्रों और अभिभावकों के बीच एक बड़ी गलत धारणा है कि यदि आप उच्च अंक प्राप्त करते हैं तो आपको विज्ञान का विकल्प चुनना चाहिए। खैर, यह वह तरीका नहीं है जिससे आप अपना भविष्य तय करते हैं।

आपको अपनी रुचियों को जानने की आवश्यकता है और इससे पहले कि आप आगे बढ़ें और निर्णय लेने के लिए स्ट्रीम और करियर से जुड़े विकल्पों के बारे में पूरी जानकारी रखें।

अगर आप IAS, IPS, IFS, PCS अधिकारी बनना चाहते हैं, तो किसी भी स्ट्रीम से साइंस, आर्ट्स, कॉमर्स कर सकते हैं। अगर आप सेना या पुलिस में जाकर देश की सेवा करना चाहते हैं, तो इसके रास्ते तीनों स्ट्रीम में से एक चुन सकते हैं।

10 वीं के बाद आप डायरेक्ट पॉलिटेक्निक या आईटीआई में एडमिशन लेकर भी प्रोफेशनल कोर्स चुन सकते हैं।

साइंस स्ट्रीम :

10 वीं के बाद साइंस स्ट्रीम का चयन करने के बाद इस क्षेत्र में संभावनाओं का क्षेत्र खुलता है। साइंस स्ट्रीम इंजीनियरिंग, सॉफ्टवेयर, प्रौद्योगिकी और डॉक्टर बनने का सपना देख रहे छात्रों को लेना चाहिए। इसके अलावा, फार्मेसी की लाइन भी यहाँ से निकलती है।

अगर आप इंजीनियरिंग में रुचि रखते हैं तो आप PCM या फिजिक्स + केमिस्ट्री + मैथमेटिक्स को मुख्य विषयों के रूप में चुन सकते हैं, लेकिन अगर आप मेडिसिन में रुचि रखते हैं तो आप पीसीएमबी या फिजिक्स + केमिस्ट्री + मैथमेटिक्स + बायोलॉजी ले सकते हैं।

आर्ट्स स्ट्रीम:

अगर आप वकील, पत्रकार, साहित्यकार, राजनीतिज्ञ बनना चाहते हैं, तो आर्ट्स की स्ट्रीम अच्छी होगी। आर्ट्स लेने से आपको इतिहास, भूगोल, अर्थशास्त्र, राजनीति साइंस जैसे विषयों का अध्ययन करने का अवसर मिलता है।

कॉमर्स स्ट्रीम :

कॉमर्स स्ट्रीम में मुख्य रूप से बिजनेस स्टडीज, इकोनॉमिक्स और अकाउंट्स मुख्य विषयों के रूप में शामिल हैं, अगर आप CA या कंपनी सेक्रेटरी बनना चाहते हैं, तो कॉमर्स की यह लाइन सबसे अच्छी है।

अगर आप अकाउंटेंसी, बैंकिंग, मैनेजमेंट, फाइनेंस, टैक्स, इनवेस्टमेंट बैंकिंग, फाइनेंशियल एडवाइजर से जुड़े प्रोफेशन में उतरना चाहते हैं, तो कॉमर्स की स्ट्रीम चुनें। इस पंक्ति में, आपको अर्थशास्त्र, गणित, अकाउंट्स जैसे विषयों का अध्ययन करना होगा।

Leave a Comment