SSC, बैंकिंग और रेलवे के लिए नहीं देनी होगी अलग-अलग परीक्षा, राष्ट्रीय भर्ती एजेंसी (NRA) को केंद्र की मंजूरी

राष्ट्रीय भर्ती एजेंसी (नेशनल रिक्रूटमेंट एजेंसी NRA) क्या है और यह कैसे कार्य करेगी? अब युवाओं को SSC, बैंकिंग और रेलवे के लिए देनी होगी केवल एक परीक्षा कॉमन एलिजिबिलिटी टेस्ट (CET)।

राष्ट्रीय भर्ती एजेंसी (NRA)

एक राष्ट्रीय भर्ती एजेंसी का गठन किया जाएगा, जो गैर-राजपत्रित सरकारी पदों पर भर्ती के लिए 2021 से एकल कंप्यूटर आधारित परीक्षा आयोजित करेगी। सरकारी नौकरियों में चयन के लिए सामान्य पात्रता परीक्षा आयोजित करने की जिम्मेदारी एजेंसी की होगी।

वर्तमान में, प्रत्येक वर्ष 2.5 करोड़ से अधिक उम्मीदवारों के लिए कई परीक्षाएं आयोजित की जा रही हैं। भर्ती प्रक्रिया को एक चक्र पूरा करने में लगभग 18 महीने और अधिक समय लगता है।

सीईटी के कार्यान्वयन से सभी उम्मीदवारों के लिए एक स्तर का मैदान उपलब्ध होगा और विशेष पदों के लिए प्रारंभिक परीक्षा के रूप में माना जाएगा।

नई प्रणाली के तहत, उम्मीदवारों को एक सामान्य पोर्टल के माध्यम से आवेदन करने और एक सामान्य पाठ्यक्रम से तैयारी करने की आवश्यकता होगी। एक केंद्रीय सर्वर में समान कठिनाई स्तरों के कई प्रश्नों के साथ एक मानकीकृत प्रश्न पत्र सेट किया जाएगा।

इस प्रक्रिया में उम्मीदवारों के स्कोर जल्दी से उत्पन्न होंगे, ऑनलाइन वितरित किए जाएंगे और 3 साल की अवधि के लिए मान्य होंगे। परीक्षा वर्ष में दो बार आयोजित की जाएगी। एनआरए का उद्देश्य कई परीक्षाओं के लिए उम्मीदवारों पर बोझ को कम करना है।

राष्ट्रीय भर्ती एजेंसी (NRA)

परीक्षा की सूची जो एनआरए संचालित करेगा

राष्ट्रीय भर्ती एजेंसी प्रारंभिक रूप से 3 एजेंसियों अर्थात् कर्मचारी चयन आयोग (SSC), रेलवे भर्ती बोर्ड (RRB) और बैंकिंग कार्मिक चयन संस्थान (IBPS) की प्रारंभिक परीक्षाओं की जगह लेगी।

इसका मतलब यह है कि उम्मीदवारों को इन तीन एजेंसियों जैसे SSC CGL, CHSL, IBPS क्लर्क, RRB NTPC आदि द्वारा आयोजित सभी परीक्षाओं के लिए एक एकल प्रारंभिक परीक्षा की तैयारी करनी होगी।

NRA और CET से संबंधित पूछे जाने वाले प्रश्न

Q1 : राष्ट्रीय भर्ती एजेंसी (NRA) क्या है?

Ans : केंद्रीय मंत्रिमंडल ने एक राष्ट्रीय भर्ती एजेंसी (एनआरए) स्थापित करने का निर्णय लिया है। प्रस्तावित एनआरए केंद्र सरकार में विभिन्न भर्तियों के लिए एक आम प्रारंभिक परीक्षा आयोजित करेगा। सरकारी नौकरियों में चयन के लिए सामान्य पात्रता परीक्षा आयोजित करने की जिम्मेदारी एजेंसी की होगी।

Q2: NRA की आवश्यकता क्यों है?

Ans : अब तक, उम्मीदवारों को विभिन्न परीक्षाएं लेनी होती हैं जो केंद्र सरकार की नौकरियों के लिए विभिन्न एजेंसियों द्वारा आयोजित की जाती हैं।केंद्र सरकार में हर साल औसतन 2.5 करोड़ से 3 करोड़ उम्मीदवार लगभग 1.25 लाख रिक्त पदों के लिए उपस्थित होते हैं।
एनआरए एक सामान्य पात्रता परीक्षा (सीईटी) आयोजित करेगा और सीईटी स्कोर के आधार पर एक उम्मीदवार संबंधित एजेंसी के साथ रिक्ति के लिए आवेदन कर सकता है।

Q3 : क्या NRA सभी सरकारी रिक्तियों के लिए एक परीक्षा आयोजित करेगा?

Ans: प्रारंभ में, यह ग्रुप बी और सी (गैर-तकनीकी) पदों के लिए उम्मीदवारों का आयोजन करेगा, जो अब कर्मचारी चयन आयोग (SSC), रेलवे भर्ती बोर्ड (RRB) और IBPS द्वारा आयोजित किए जा रहे हैं। बाद में, इसके अंतर्गत और परीक्षाएँ लाई जा सकती हैं।

एजेंसी में एसएससी, आईबीपीएस और आरआरबी के प्रतिनिधि होंगे। परीक्षा तीन स्तरों के लिए आयोजित की जाएगी: स्नातक, उच्च माध्यमिक (12 वीं पास) और मैट्रिक (10 वीं पास) उम्मीदवार। हालांकि वर्तमान भर्ती एजेंसियां- आईबीपीएस, आरआरबी और एससीसी यथावत रहेंगी।

Q4 : CET का माध्यम क्या होगा?

Ans : सीईटी कई भाषाओं में आयोजित किया जाएगा। मंत्री जितेंद्र सिंह के अनुसार, परीक्षा 12 भाषाओं में आयोजित की जाएगी जो भारत के संविधान की आठवीं अनुसूची में हैं।

Q5 : NRA पर कितना पैसा खर्च होगा?

Ans : प्रारंभ में, केंद्रीय मंत्रिमंडल ने 3 वर्षों की अवधि के लिए NRA के लिए 1517.57 करोड़ रुपये की राशि को मंजूरी दी है। धनराशि का उपयोग NRA और परीक्षा केंद्रों की स्थापना के लिए किया जाएगा।

Updated: September 8, 2020 — 5:05 pm

The Author

Girish Kumar

नमस्कार दोस्तों, मेरा नाम गिरीश कुमार है और मैं Job Alert Hindi का कंटेंट राइटर हूँ। यह एक हिंदी ब्लॉग है जिसमे आपको महत्वपूर्ण शैक्षिक सामग्री, सभी विभाग की सरकारी नौकरी व इससे संबंधित अन्य प्रकार की जानकारी हिंदी में मिलेगी।

1 Comment

Add a Comment
  1. लखन सिंह

    नमस्कार प्रणाम नौकरी के लिए भटक रहै है

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *