आओ जानें कि दसवीं के बाद कौन सा कोर्स करें

10th ke baad konsa course kare

जब कोई छात्र अपनी दसवीं कक्षा पास करता है तो उसके बाद उनके पास कई तरह के विकल्प होते है। कुछ छात्र अपनी 11 और 12 कि पढ़ाई जारी रखने की सोचते हैं कि 10th ke baad konsa course kare और कुछ छात्र कोई प्रोफेशनल कोर्स करने की सोचते है।

इस आर्टिकल में हम आपको हाई स्कूल के बाद क्या करें (10th के बाद डिप्लोमा कोर्स) के बारे में ही सारी जानकारी देने वाले हैं, जिसे करने बाद आप अपनी पढ़ाई के साथ साथ अच्छे पैसे भी कमा सकते हैं, और अपनी पढ़ाई जारी रख सकते हैं। तो मैट्रिक के बाद क्या करना चाहिए आर्टिकल को अंत तक पढ़ते रहे।

10th ke baad konsa course kare

1. Diploma in Hotel Management

● डिप्लोमा इन होटल मैनेजमेंट कोर्स मुख्यतौर पर वो छात्र करते है जो अपना करियर होटल मैनेजमेंट के फील्ड में बनना चाहते है।

● इस कोर्स में आपको यह सिखाया जाता है कि कोई खाना या ड्रिंक कैसे सर्व करना है, अगर आप फ्रंट ऑफिस डेस्क पर तो वहा क्या क्या करना है। इन सब से जुड़ी बाते ही बताई जाती हैं।

Course kaise kare?

● डिप्लोमा इन होटल मैनेजमेंट करने के लिए आपको आपके आस पास के अच्छे इंस्टीट्यूट देखने पढ़ेंगे जहा पर यह कोर्स अभी मौजूद है।

● किसी इंस्टीट्यूट में आपको डायरेक्ट एडमिशन मिल जाता है तो किसी इंस्टीट्यूट में आपको एडमिशन के लिए एंट्रेंस एग्जाम देना पढ़ता है।

● इस कोर्स के लिए एंट्रेंस लेवल का एग्जाम इंस्टीट्यूट ही कंडक्ट कराती है।

● इस कोर्स की फीस हर इंस्टीट्यूट की अलग अलग है, और फीस 10 हजार से लेकर 2 लाख तक भी है।

Scope kya hai?

● डिप्लोमा इन होटल मैनेजमेंट करने के बाद आप एक होटल मैनेजर के रुप में, रेस्टोरेंट मैनेजर के रूप में या फिर फ्रंट ऑफिस मैनेजर के रूप में काम कर सकते हो।

● आपकी सैलेरी भी कुछ 2 लाख प्रति साल से लेकर 6 लाख प्रति साल तक रहती है।

Course Duration

● यह डिप्लोमा इन होटल मैनेजमेंट कोर्स 3 साल का होता है। और इस कोर्स में एग्जाम सेमेस्टर प्रणाली से ही होता है।

● यह कोर्स आप किसी कॉलेज, यूनिवर्सिटी, इंस्टीट्यूट या फिर किसी अच्छे होटल से भी कर सकते हो।

Eligibility

● डिप्लोमा इन होटल मैनेजमेंट कोर्स करने के लिए आपकों कम से कम दसवीं पास होना पड़ेगा।

● डिप्लोमा इन होटल मैनेजमेंट करने के लिए किसी भी इंस्टीट्यूट का एंट्रेंस लेवल का एग्जाम क्लियर करना पड़ेगा।

2. Diploma in Fashion Designing

● डिप्लोमा इन फैशन डिजाइनिंग एक स्किल बेस्ड कोर्स है जो मुख्यतौर पर वो छात्र करते है जिन्हे डिजाइनिंग और फैशन का शौक है।

● वो छात्र यह कोर्स करने के बाद या तो आपका खुद की स्टोर खोलते है या फिर किसी बड़े ब्रांड के लिए एक एक्सपर्ट के तौर पर काम करते है।

Course kaise kare?

● डिप्लोमा इन फैशन डिजाइनिंग का कोर्स करने के लिए आपको अपने आस पास के कॉलेज ढूंढने पड़ेंगे जहा पर यह कोर्स अवेलबल होगा।

● वहा जाकर उस कोर्स के लिए अपनी कोर्स फीस जमा करे।

● गवर्नमेंट इंस्टीट्यूट से कोर्स पूरा करने के लिए पहले उन कॉलेज का एंट्रेंस एग्जाम पास करे।

Scope kya hai?

● इस कोर्स को पूरा करने के बाद आप खुद का भी फैशन स्टोर खोल सकते है।

● आप किसी बड़े फैशन डिजाइनर के असिटेंट भी बन सकते है।

● आप किसी ब्रांड के लिए फैशन स्टाइलिस्ट भी बन सकते हैं।

Course Duration

● डिप्लोमा इन फैशन डिजाइनिंग कोर्स 1 साल से लेकर 18 महीने तक का होता है।

● डिप्लोमा करने बाद अगर आपको आगे और पढ़ना है तो आप इसी कोर्स से अपना ग्रेजुएशन भी कर सकते है।

Eligibility

● डिप्लोमा इन फैशन डिजाइनिंग कोर्स में एडमिशन लेने के लिए सिर्फ 10th पास होना जरूरी है।

● इस कोर्स में एडमिशन के लिए आपको किसी भी प्रकार का पहले से कोई स्किल बेस्ड कोर्स करने की भी कोई जरुरत नहीं हैं।

3. Diploma in Fine Arts

फाइन आर्ट्स में डिप्लोमा मुख्यतौर पर वो लोग छात्र करते है जो थोड़े ज्यादा क्रिएटिव होते है। जिन लोगो की आर्ट एंड क्राफ्ट काफी अच्छी होती हैं। इस फील्ड में सफल होने के लिए सिर्फ क्रिएटिव ही नहीं आपको मेहनती भी होना पड़ेगा।

Course kaise kare?

● इस कोर्स को करने के लिए आपको वो कॉलेज और विश्वविद्यालय दिखने पड़ेंगे जहा यह कोर्स मौजूद हो।

● उन कॉलेजिस में एडमिशन मेरिट के आधार पर ही होता है किसी भी तरह का एंट्रेंस लेवल का एग्जाम नही देना होता।

Scope kya hai?

● इस कोर्स को पूरा करने के बाद आप एक ग्राफिक डिजाइनर के तौर पर काम कर सकते है।

● आप किसी इंस्टिट्यूट में आर्ट ऑफिसर भी बन सकते हैं।

● आप टीचर बन कर एनीमेशन भी सीखा सकते हैं।

Course Duration

यह फाइन आर्ट्स कोर्स मुख्य तौर पर 1 साल का ही होता है। उसके बाद आप अगर इसमें ग्रेजूशन करना चाहते है तो आप इस कोर्स को आगे भी जारी रख सकते हैं।

Eligibility

इस कोर्स को करने के लिए आपको दसवीं पास होना जरुरी है वो करने के बाद आप एलिजिब हो जाओगे यह कोर्स किसी भी इंस्ट्यूट या कॉलेज से करने के लिए।

4. Diploma In Computer Engineering

● यह कोर्स मुख्यतौर पर वो छात्र करते है जिन्हे कंप्यूटर या कंप्यूटर से रिलेटेड या आईटी सेक्टर में इंटरेस्ट होता है। वो लोग यह कोर्स करने के लिए ज्यादा उत्सुक रहते है।

● यह कोर्स आपका आईटी सेक्टर में घुसने का सबसे पहला कदम हो सकता है।

Course kaise kare?

इस कोर्स को करने की लिए आपको पॉलीटेक्निक का स्टेट लेवल के एग्जाम में बैठना होगा और एक अच्छी रैंक लानी होगी। उसके बाद ही आप इस कोर्स को किसी गवर्नमेंट कॉलेज से कर पाएंगे।

अगर आपके आस पास कोई प्राइवेट कॉलेज यही कोर्स कराता है तो आप वो भी कर सकते है।

Scope kya hai ?

● इस कोर्स को करने का बाद आप किसी भी आईटी सेक्टर की कंपनी में काम कर सकते हो।

● शुरुवात में आपकी सैलरी 2.5 लाख प्रति साल से लेकर 6 लाख प्रति साल तक भी हो सकती है।

Course Duration

● इस कोर्स को पूरा करने के लिए आपको 3 साल लगेंगे।

● जिसके बीच में आपको हर सेमेस्टर एग्जाम भी देना होगा।

Eligibility

इस कोर्स में दाखिला लेने के लिए आपको कम से कम 10वी करनी पड़ेगी और स्टेट लेवल का पॉलीटेक्निक का एग्जाम निकालना पड़ेगा।

5. Diploma in Mechanical Engineering

● डिप्लोमा इन मैकेनिकल इंजीनियरिंग कोर्स को काफी जगह पॉलीटेक्निक इन मैकेनिकल इंजीनियरिंग के नाम से भी जाना जाता हैं।

● यह कोर्स करने के लिए भी आपको पॉलीटेक्निक का एग्जाम क्लियर करना होगा।

Course kaise kare?

● यह कोर्स करने के लिए आपको पॉलीटेक्निक का एग्जाम देना होगा उस एग्जाम में एक अच्छी रैंक लानी होगी उसके बाद आप इस कोर्स को किसी गवर्नमेंट कॉलेज से कम दाम में कर सकते हो।

● आप किसी प्राइवेट यूनिवर्सिटी से भी यह कोर्स कंपलीट कर सकते हो।

Scope kya hai?

● इस कोर्स को पूरा करने के बाद आप किसी भी मैन्युफैक्चरर कंपनी में एक सुपरवाइजर के तौर पर काम कर सकते हो।

● जैसे जैसे आपका एक्सपीरियंस बढ़ता जाएगा आप आपकी पोस्ट के साथ साथ आपकी सैलरी भी बढ़ती जायेगी।

Course Duration

● डिप्लोमा इन मैकेनिकल इंजीनियरिंग का कोर्स 3 साल का होता है।

● अगर आपको इस कोर्स में ही ग्रेजुशन करनी है तो आप बीटेक इन मैकेनिकल इंजीनियरिंग भी कर सकते हो जो आप के लिए 3 साल का होगा।

Eligibility

● इस कोर्स में एडमिशन लेने के लिए आपको सिर्फ दसवीं पास करनी है और आप एलिजिबल हो जाते हो यह कोर्स करने के लिए

● गवर्ममेट कॉलेज से करने के लिए आपको एग्जाम निकालना पड़ेगा और प्राइवेट कॉलेज से करने के लिए आपको इस कोर्स की फीस पे करनी होगी।

निष्कर्ष :

इस आर्टिकल में हमने मुख्यतौर पर उन कोर्सेज के बारे में बताया है जो कोर्स काफी छात्र दसवीं के बाद करते है। अगर आपको लगता है कि 10th ke baad konsa course kare में आर्टिकल कोई ऐसा कोर्स छूट गया हो तो हमे कॉमेंट सैक्शन में बताइए।

The Author

Rima Singh

नमस्कार दोस्तों, मेरा नाम रीमा सिंह है और मैं jobalerthindi.com की कंटेंट राइटर हूँ। यह एक हिंदी ब्लॉग है जिसमे आपको महत्वपूर्ण शैक्षिक सामग्री, सभी विभाग की सरकारी नौकरी व इससे संबंधित अन्य प्रकार की जानकारी हिंदी में मिलेगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published.