10 वीं के बाद कंप्यूटर कोर्स सूची देखें।

10 वीं के बाद कंप्यूटर कोर्स सूची

10 वीं के बाद कंप्यूटर कोर्स सूची : 10वीं में पढ़ रहे छात्र और दसवीं बस कर चुके छात्रों को कंप्यूटर के क्षेत्र में अपना भविष्य बनाने के लिए कोर्स समझना बड़ा मुश्किल हो जाता है।

जिन छात्रों को कंप्यूटर के क्षेत्र में ज्यादा दिलचस्पी है उनको अपना करियर बनाने के लिए दसवीं क्लास से ही उन्हें कंप्यूटर के जिस क्षेत्र में ज्यादा रुचि है। उन्हें उस क्षेत्र में डिप्लोमा कर लेना चाहिए आज के समय में कंप्यूटर हर क्षेत्र में फैला हुआ है।

10 वीं के बाद कंप्यूटर कोर्स सूची

बड़ी से बड़ी कंपनी और छोटी से छोटी कंपनी में कंप्यूटर का प्रयोग किया जाता है और कंप्यूटर के जरिए बड़े से बड़े काम को मिनटों में कर दिया जाता है। कंप्यूटर के क्षेत्र में नौकरी पाना बहुत ही आसान है बशर्ते आपको इसकी नॉलेज हो।

आज हमारी शिक्षा का स्तर इतना बढ़ गया है कि सरकार भी दसवीं पास के बाद कंप्यूटर में कई प्रकार के डिप्लोमा कोर्स कराने लगी है जिससे छात्रों का भविष्य अच्छा हो सके।

दसवीं क्लास में पहुंचते-पहुंचते या फिर दसवीं क्लास पास करते छात्र को कंप्यूटर की सारी बेसिक जानकारी (कंप्यूटर कोर्स कितने प्रकार के होते हैं) हो जाती है और वह कंप्यूटर से अच्छी तरह वाकिफ हो जाता है। इसलिए छात्र को कंप्यूटर की और जानकारी लेने के लिए कोई ना कोई डिप्लोमा कर लेना चाहिए। जिससे उसे आगे भविष्य में बहुत ज्यादा सहायता मिलती है।

10 वीं के बाद कंप्यूटर कोर्स सूची (10 वीं के बाद डिप्लोमा कोर्स सूची) इस प्रकार है।

कोर्स ऑन कंप्यूटर कॉन्सेप्ट्स

इस कोर्स के अनुसार छात्र को सी और सी प्लस प्लस लैंग्वेज की जानकारी दी जाती है जिन छात्रों को कंप्यूटर की बेसिक नॉलेज होती है उनके लिए यह कोर्स बहुत ही अच्छा होता है और इसके साथ-साथ छात्र को और भी प्रोग्रामिंग लैंग्वेज की बेसिक जानकारी को दिया जाता है।

डिप्लोमा इन कंप्यूटर साइंस इंजीनियरिंग

इस डिप्लोमा की अवधि 3 साल की होती है इस डिप्लोमा को करने के बाद छात्र जूनियर इंजीनियर की जितनी भी पोस्ट निकलती हैं उनको भर सकता है इस कोर्स को करने के लिए छात्र को कंप्यूटर की बेसिक नॉलेज होना बहुत ही आवश्यक है के बाद छात्र इस कोर्स को कर कर एक अच्छी नौकरी प्राप्त कर सकता है छात्र दसवीं कक्षा पास करने के बाद इस कोर्स को आसानी से जॉइन कर सकता है और वह कंप्यूटर के क्षेत्र में एक अच्छी जानकारी प्राप्त कर सकता है।

कंप्यूटर से आईटीआई

दसवीं कक्षा पास करने के बाद छात्र के पास एक सबसे अच्छा ऑप्शन होता है कंप्यूटर से आईटीआई यह कोर्स ज्वाइन करने के लिए छात्र को आईटीआई की तरफ से इस कोर्स को करने के लिए छात्र को एंट्रेंस टेस्ट देना होता है एंट्रेंस टेस्ट पास करने के बाद ही छात्र को आईटीआई से कंप्यूटर कोर्स करने की अनुमति मिल जाती है इस कोर्स में छात्र को बेसिक कंप्यूटर नॉलेज और प्रोग्रामिंग सिखाई जाती है कोर्स की अवधि 1 साल से 2 साल की हो सकती हैं।

ग्राफिक डिजाइनिंग

आज के समय में ग्राफिक्स के ऊपर बहुत ज्यादा काम होने लगा है दसवीं कक्षा पास करने के बाद छात्र के पास एक ग्राफिक डिजाइनिंग का अच्छा ऑप्शन मिल जाता है जिससे वह ग्राफिक डिजाइनिंग के क्षेत्र में अपना करियर बना सकता है।

वेब डेवलपमेंट

आज के समय में कोई भी बिजनेस हो उसकी वेबसाइट आपने जरूर देखी होगी वेबसाइट होने से एक फायदा यह है कि आप अपने प्रोडक्ट का प्रमोशन आसानी से कर सकते हैं और आज के समय में ब्लॉगिंग बहुत ज्यादा हो रही है तो दसवीं कक्षा पास करने के बाद छात्रों को वेब डेवलपमेंट में अपना करियर बनाना बहुत अच्छा हो सकता है क्योंकि जैसे-जैसे टेक्नोलॉजी बढ़ती जा रही है वैसे-वैसे छात्रों को अपॉर्चुनिटी उतनी ही अधिक मिलती जा रही है।

एप्लीकेशन डेवलपमेंट

हम सभी मोबाइल फोन का यूज़ तो बहुत करते हैं परंतु क्या आपको पता है उस में जितनी भी एप्लीकेशन चलती हैं वह कैसे बनती हैं जी हां यह एक एप्लीकेशन डेवलपमेंट कोर्स के जरिए छात्रों द्वारा सीखने के बाद बनाए गए ऐप से होता है।

सॉफ्टवेयर डेवलपमेंट

आज के समय में कंप्यूटर लैपटॉप पर काम करने वाले बहुत लोग देखे होंगे और उसमें यूज होने वाले सॉफ्टवेयर भी आपने जरूर देखे होंगे तो इन सॉफ्टवेयर को डिवेलप करने के लिए सॉफ्टवेयर डेवलपमेंट कोर्स एक बहुत ही अच्छा ऑप्शन है दसवीं पास करने के बाद छात्रों के पास यह एक बहुत ही अच्छा ऑप्शन है जिसको वह अपने भविष्य में करियर बनाने के लिए कर सकते हैं।

एनिमेशन

एक ऐसा क्षेत्र है जहां पर आपने आजकल टीवी पर यूट्यूब पर कार्टून और अन्य टाइप के एनिमेशन वीडियो जरूर देखे होंगे आजकल यह बहुत तेजी से पॉपुलर होता जा रहा है दसवीं के बाद छात्र के लिए एनिमेशन का ऑप्शन बहुत ही अच्छा हो सकता है और उसको भविष्य में बहुत ही अच्छी सैलरी का पैकेज मिल सकता है इस कोर्स को करने के लिए 1 से 3 साल का समय लगता है।

एडवांस डिप्लोमा इन फाइनेंशियल अकाउंटिंग

आज के समय में कोई भी कंपनी हो उसको अपने फाइनेंस का हिसाब रखना बहुत ही जरूरी हो गया है जिन छात्रों को अकाउंट में रुचि है वह इस कोर्स को सीकर अपना भविष्य बना सकते हैं।

डिजिटल मार्केटिंग

आज के क्षेत्र में डिजिटल मार्केटिंग का कोर्स बहुत ही तेजी से पॉपुलर हो रहा है क्योंकि डिजिटल मार्केटिंग का मतलब है इंटरनेट के जरिए मार्केटिंग करना इसका मतलब यह है कि आपकी कोई वेबसाइट या किसी टाइप के प्रोडक्ट को इंटरनेट पर प्रमोद कराना इसको डिजिटल मार्केटिंग कहते हैं दसवीं कक्षा के छात्र को आसानी से मिल जाता है।

Updated: November 24, 2022 — 4:53 pm

The Author

अमित कुमार

मेरा नाम अमित कुमार है और मैं jobalerthindi.com का कंटेंट राइटर हूँ। मैं 2016 से नौकरी और शिक्षा के बारे में अपने ब्लॉग पर लिख रहा हूँ । जिसमें आपको सभी विभागों में सरकारी नौकरी व इससे संबंधित अन्य प्रकार की जानकारी मिलेगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *