आओ जानें हाई स्कूल / 10वीं में पास होने के लिए कितने नंबर चाहिए?

दसवीं क्लास (हाई स्कूल) पास करने के लिए छात्र को कम से कम कितने नंबर चाहिए हमेशा मन में संदेह बना रहता है। आज हम आपको सीबीएसई बोर्ड, आईसीएसई बोर्ड और यूपी बोर्ड 10वीं पास होने के लिए कितने नंबर चाहिए के बारे में बताने जा रहे है।

सीबीएसई और आईसीएसई बोर्ड का नंबर देने का पैटर्न लगभग सामान होता है। स्कूल से आपको इंटरनल मार्क्स भी मिलते हैं जिसमें से 20 अंक में से चार अंक पास होने के लिए अनिवार्य हैं।

10वीं पास होने के लिए कितने नंबर चाहिए

10वीं पास होने के लिए कितने नंबर चाहिए

दसवीं में कितने नंबर से पास होते हैं?

छात्रों को कम से कम 100 अंक में से 33% अंक पास होने के लिए चाहिए। सीबीएसई ने चल रही महामारी के बीच सीबीएसई पाठ्यक्रम 2021 में 30 प्रतिशत की कमी की है, लेकिन उत्तीर्ण अंकों में कोई बदलाव नहीं किया गया है जो प्रत्येक विषय में 33 प्रतिशत पर रहता है।

कुल अंकपासिंग मार्क्सपासिंग मार्क्स %
1003333%
10th class me pass hone ke liye kitne number chahiye

सीबीएसई और आईसीएसई बोर्ड में कुछ सब्जेक्ट ऐसे हैं। जिसमें बोर्ड की परीक्षा 70 अंकों की होती है और कुछ सब्जेक्ट ऐसे हैं जिसमें बोर्ड की परीक्षा 80 अंकों की होती है।

70 अंको वाले सब्जेक्ट में छात्र को कम से कम 23 अंक लाना अनिवार्य होता है और 80 अंक वाले सब्जेक्ट में छात्रों को 26 अंक लाना अनिवार्य होता है।

कुछ विषयों मैं 60 अंकों में से 19 अंक लाना अनिवार्य है और कुछ विषयों की परीक्षा 30 अंकों की भी होती है जिसमें 9 अंक लाना अनिवार्य होता है। हाई स्कूल में पास होने के लिए कितने नंबर चाहिए

अंकपासिंग मार्क्स
80 नंबर वाले विषय26
70 नंबर वाले विषय23
60 नंबर वाले विषय19
30 नंबर वाले विषय9

यदि आप इन से कम नंबर लाते हैं। तब आपको बोर्ड की तरफ से कंपार्टमेंट दे दी जाती है और उस विषय की दोबारा परीक्षा होती है।

यूपी बोर्ड में 10वीं पास होने के लिए कितने नंबर चाहिए

यूपी बोर्ड रिजल्ट का इंतजार कर रहे छात्रों को यूपी बोर्ड पासिंग मार्क्स पता होना चाहिए। यूपी बोर्ड परीक्षा को उत्तीर्ण करने के लिए, छात्रों को न्यूनतम 33% स्कोर करना होगा। कक्षा 10 के लिए यूपी बोर्ड उत्तीर्ण अंक सभी श्रेणियों के लिए समान है।

यूपी बोर्ड में दसवीं क्लास के छात्रों को पास होने के लिए 100 में से मिनिमम 33% नंबर चाहिए। यदि छात्र को इससे कम नंबर मिलते हैं तो उसको कंपार्टमेंट दी जाती है और उसको उस विषय की परीक्षा दोबारा देनी पड़ती है।

सभी परीक्षाओं के लिए यूपी बोर्ड उत्तीर्ण मानदंड 33% है। स्टेट बोर्ड थ्योरी और प्रैक्टिकल परीक्षाओं के लिए अलग-अलग ग्रेडिंग सिस्टम के माध्यम से यूपी बोर्ड रिजल्ट कक्षा 10 का निर्धारण करता है। छात्र अपने संदर्भ के लिए नीचे दी गई तालिका देख सकते हैं:

ग्रेडअंकों का प्रतिशत
A191 – 100
A281 – 90
B171 – 80
B261 – 70
C151 – 60
C241 – 50
D33 – 40
E121 – 32
E221 से कम

यूपी बोर्ड में यह पैटर्न पहले नहीं चलता था परंतु कुछ नियमों में परिवर्तन के तहत यह नियम लाया गया। पहले यूपी बोर्ड में परीक्षार्थी को यदि 33% से कम मार्क्स मिलते थे तो उसको फेल घोषित कर दिया जाता था और अभ्यार्थी को उस विषय की दोबारा परीक्षा देने का भी मौका नहीं दिया जाता था और अभ्यार्थी दोबारा से उसी क्लास में पढ़ाई करता था।

एमपी बोर्ड 10th क्लास पासिंग मार्क्स

एमपी बोर्ड के अनुसार यदि आप कक्षा 10 में पास होना चाहते हैं तो आपको कम से कम में से 33 अंक लाना अनिवार्य है 33 अंक लाने पर ही आप पास माने जाएंगे।

राजस्थान बोर्ड 10th क्लास पासिंग मार्क्स स्कीम

राजस्थान बोर्ड ने कक्षा 10 छात्रों को पास करने के लिए कुछ नियम बनाए हैं जिसमें छात्र को 100 में से 33% अंक लाना अनिवार्य हो गया है।

Q1 : मैट्रिक में पास होने के लिए कितने नंबर चाहिए?

Ans: मैट्रिक परीक्षा में पास होने के लिए 33 फीसद अंक लाना जरूरी है।

The Author

अमित कुमार

मेरा नाम अमित कुमार है और मैं jobalerthindi.com का कंटेंट राइटर हूँ। मैं 2016 से नौकरी और शिक्षा के बारे में अपने ब्लॉग पर लिख रहा हूँ । जिसमें आपको सभी विभागों में सरकारी नौकरी व इससे संबंधित अन्य प्रकार की जानकारी मिलेगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *