सेना में भर्ती के लिए योग्यता की जानकारी

सेना में भर्ती के लिए योग्यता (सेना भर्ती योग्यता कीजानकारी) भारतीय सेना को हिंदी में थल सेना के रूप में जाना जाता है, जिसमें सबसे अधिक संख्या में सैनिक हैं। भारत की यह क्षेत्रीय सेना एक महान रक्षा प्रणाली साबित हुई है, और इसलिए भारत के विभिन्न राज्यों से बड़ी संख्या में युवा भारतीय सेना में शामिल होना चाहते हैं।

भारतीय सेना के पास एक रेजिमेंटल प्रणाली (विभिन्न राज्यों की रेजीमेंट्स) है, जो फिर संचालन और भौगोलिक स्थानों के आधार पर 7 कमांडों में विभाजित है।

सेना में भर्ती के लिए योग्यता

क्रम संख्‍याश्रेणीशिक्षाआयु
(1)सैनिक (सामान्‍य ड्यूटी) (सभी आयुध)एसएसएलसी / मैट्रिक (हाईस्‍कूल) में प्रत्‍येक विषय में 32 प्रतिशत और कुल योग 45 प्रतिशत। अगर अभ्‍यर्थी, बारहवीं उत्‍तीर्ण या उससे ज्‍यादा शिक्षित है तो इस प्रतिशत को नहीं माना जाएगा।17 ½ – 21 वर्ष
(2)सैनिक (तकनीकी) (तकनीकी आयुध, तोपखाने, सेना वायु रक्षा)10+2 / इंटरमीडिएट में विज्ञान संकाय में भौतिक विज्ञान, रसायन विज्ञान, गणित और अंग्रेजी में कुल 50 प्रतिशत और प्रत्‍येक विषय में 40 प्रतिशत अंकों के साथ उत्‍तीर्ण। (अपेक्षित विषयों के साथ 10+2 में साधारण उत्‍तीर्ण, 31 मार्च 2013 तक का स्‍वीकार्य है।)17 ½ – 23 वर्ष
(3)सैनिक क्‍लर्क / स्‍टोर संरक्षक तकनीकी (सभी आयुध)किसी भी संकाय में 10+2 / इंटरमीडिएट में प्रत्‍येक विषय में 50 प्रतिशत और कुल 60 प्रतिशत अंकों के साथ उत्‍तीर्ण। प्रत्‍येक विषय में 50 प्रतिशत अंकों के साथ Cl X या Cl XII में अंग्रेजी और गणित / एकाउंट / किताब रखरखाव में शिक्षित और उत्‍तीर्ण होना चाहिए। बीएससी में अंग्रेजी और गणित विषय के साथ स्‍नातक होने के मामले में, Cl X या Cl XII में 60 प्रतिशत की शर्त, समाप्‍त कर दी गई। अंग्रेजी और गणित / एकाउंट / किताब रखरखाव के बिना स्‍नातक होने के मामले में, अभ्‍यर्थी के Cl X या Cl XII में कम से कम एक बार अंग्रेजी और गणित / एकाउंट / किताब रखरखाव में 40 प्रतिशत से अधिक अंक होने चाहिए।17 ½ – 23 वर्ष
(4)सैनिक नर्सिंग सहायक (सेना चिकित्‍सा कोर)विज्ञान संकाय में भौतिक विज्ञान, रसायन विज्ञान, जीवन विज्ञान और अंग्रेजी विषयों के साथ 10+2 / इंटरमीडिएट में प्रत्‍येक विषय में 40 प्रतिशत और कुल 50 प्रतिशत अंकों के साथ उत्‍तीर्ण। या अगर अभ्‍यर्थी, अंग्रेजी और वनस्‍पति विज्ञान / जीव विज्ञान / बायो-साइंस विषयों के साथ बीएससी डिग्री धारक है, तो Cl-XII में प्रतिशत की शर्तों को समाप्‍त कर दिया जाता है। हालांकि, अभ्‍यर्थी को Cl XII में भी सभी चार निर्दिष्‍ट विषयों में शिक्षित होना आवश्‍यक है।17 ½ – 23 वर्ष
(5)सैनिक ट्रेड्समैन / निर्माणकर्ता (सभी आयुध)दसवीं / आईटीआई उत्‍तीर्ण (मैस कीपर और हाउस कीपर को छोड़कर- जो 8वीं पास हो सकता है।)17 ½ – 23 वर्ष
(6)सैनिक सामान्‍य ड्यूटी (साधारण मैट्रिक पास) (सभी आयुध)दसवीं उत्‍तीर्ण (सिर्फ)17 ½ – 21 वर्ष
(7)सर्वेयर ऑटो कार्टो (इंजीनियर्स)गणित विषय के साथ बीए / बीएससी उत्‍तीर्ण। बारहवीं में मुख्‍य विषय के रूप में गणित और विज्ञान से उत्‍तीर्ण होना आवश्‍यक है।20-25 वर्ष
(8)कनिष्‍ठ कमीशन्‍ड अधिकारी धार्मिक शिक्षक (सभी आयुध)किसी भी विषय में स्‍नातक। अपने धार्मिक मूल्‍य वर्गों में अपेक्षित योग्‍यता के साथ।27-34 वर्ष
(9)कनिष्‍ठ कमीशन्‍ड अधिकारी कैटरिंग (सेना सेवा कोर)बारहवीं या उसके समकक्ष एक वर्ष की अवधि का डिप्‍लोमा / प्रमाणपत्र; या किसी मान्‍यता प्राप्‍त विश्‍वविद्यालय / फूड क्राफ्ट संस्‍थान से कुकरी / होटल मैनेजमेंट एंड कैटरिंग टेक्नोलॉजी में कोर्स। एआईसीटीई मान्‍यता होना अनिवार्य नहीं है।21-27 वर्ष
(10)हवलदार शिक्षा (सेना शिक्षा कोर)समूह X – बीएड के साथ एमए / एमएससी / एमसीएस या बीए / बीएससी / बीसीए / बीएससी (आईटी) समूह Y – बीएससी / बीए / बीसीए / बीएससी (आईटी) (w/o बीएड)20-25 वर्ष
सेना भर्ती के लिए योग्यता (सेना भर्ती योग्यता की जानकारी):

सभी श्रेणियों के लिए नामांकन के समय पर नई भर्ती के लिए मानक न्‍यूनतम ऊंचाई, छाती और वजन

पूरा देश छ: क्षेत्रों में विभाजित किया गया है जो कि निम्‍न प्रकार हैं: पश्चिमी मैदानी क्षेत्र, पूर्वी मैदानी क्षेत्र, मध्‍य क्षेत्र, दक्षिणी क्षेत्र, पश्चिमी हिमालय क्षेत्र और पूर्वी हिमालय क्षेत्र। विभिन्‍न क्षेत्रों के लिए न्‍यूनतम शारीरिक मानदंड, निम्‍न प्रकार हैं:

क्षेत्रराज्‍यऊंचाई (सेमी.)छातीवजन
  सैनिक सामान्‍य ड्यूटी और टीडीएनसैनिक तकनीक / एनएसीएलके / एसकेटी (Clk/SKT)(सेमी.)(किग्रा.)
पश्चिमी हिमालय क्षेत्रजम्‍मू और कश्‍मीर, हिमाचल प्रदेश, पंजाब हिल्‍स (हिमाचल प्रदेश और पंजाब के बीच अंतर्राज्‍यीय बॉर्डर के पश्चिम और दक्षिण क्षेत्र; और मुकेरिया, होशियारपुर, गढ़ शंकर, रोपड़ और चंडीगढ़ सड़क के पूर्व और उत्‍तर), गड़वाल और कुमांऊ (उत्‍तराखंड)1661631627748
पूर्वी हिमालय क्षेत्रसिक्किम, नागालैंड, अरूणाचल प्रदेश, मणिपुर, त्रिपुरा, मिजोरम, मेघालय, असम और पश्चिम बंगाल के पहाड़ी क्षेत्र (गंगटोक, दार्जिलिंग और कालीम्‍पोंग जिला)1601571607748
पश्चिमी मैदानी क्षेत्रपंजाब, हरियाणा, चंडीगढ, दिल्‍ली, राजस्‍थान और पश्चिमी उत्‍तर प्रदेश (मेरठ और आगरा डिवीजन)1701701627750
पूर्वी मैदानी क्षेत्रपूर्वी उत्‍तर प्रदेश, बिहार, पश्चिम बंगाल, झारखंड और ओडिसा1691691627750
मध्‍य क्षेत्रमध्‍य प्रदेश, छत्‍तीसगढ़, गुजरात, महाराष्‍ट्र, दादर, नागर हवेली, दमन और दीव168167162*7750
दक्षिणी क्षेत्रआंध्र प्रदेश, कर्नाटक, तमिलनाडु, केरल, गोआ और पांडुचेरी1661651627750
विशेष शारीरिक मानक

* 1 सेमी. की छाती की माप में व्‍यवस्‍था, मध्‍य क्षेत्र में सैनिक तकनीकी श्रेणी के लिए अनुमोदित की गई है।

नीचे दिए गए रूप में न्‍यूनतम शारीरिक मानक, निम्‍नलिखित प्रकार लागू होगें:

क्रम संख्‍याभौतिक मानकऊंचाई (सेमी.)छाती (सेमी.)वजन (किग्रा.)
(क)लद्दाखी1577750
(ख)गोरखा; भारतीय और नेपाली दोनों1607748
(ग)मिनिकॉय सहित अंडमान और निकोबार द्वीप समूह, लक्षद्वीप समूह से अभ्‍यर्थी:   
(i) अधिवासी1657750
(ii) स्‍थानीय1557750
(घ)मान्‍यता प्राप्‍त आदिवासी क्षेत्रों से आदिवासी1627748
(ङ)ब्रिगेड ऑफ गार्डस1737750
(च)मध्‍य आर्टिलरी1707750
(छ)सैन्‍य पुलिस के कोर1737750
*(ज)सीएलके (एडी) / एसकेटी1627750
(झ)आरटी जेसीओ1607750
(ञ)सैनिक ट्रेड्समैनक्षेत्र के न्‍यूनतम शारीरिक मानक, ऊपर दिए गए हैं, शून्‍य से 1 कम छाती और 2 किग्री. वजन। एचटी मानदंड, क्षेत्र के लिए भी उतना ही प्रासंगिक सैनिक जीडी के बराबर होगा।
(ट)जूनियर कमीशन अफसर कैटरिंग (एएससी) / सर्वेयर ऑटो कार्टोग्राफर (इंजीनिया जीपी) / हवलदार शिक्षाविभिन्‍न क्षेत्रों के लिए सैनिक सामान्‍य ड्यूटी के रूप में लागू है।

नोट:* ऊपर दिए गए दूसरे पैरा 2(ज) में लिखित मानकों से कम क्षेत्रीय शारीरिक मानक, उन क्षेत्र से संबंधित लिपिक पद के अभ्‍यर्थियों के लिए लागू किया जाएगा।

शारीरिक मानकों में छूट

निम्‍नलिखित श्रेणियों को प्रत्‍येक के विपरीत उल्‍लेखित रूप में शारीरिक मानकों में छूट की अनुमति दी जाएगी:

क्रम संख्‍याभौतिक मानकऊंचाई (सेमी.)छाती (सेमी.)वजन (किग्रा.)
(क)एसओएस, एसओईएक्‍स, एसओडब्‍ल्‍यूडब्‍ल्‍यू और सेवानिवृत्‍त की विधवा ने युद्ध में शहीद के पुत्र / दामाद को गोद लिया लिया हों, अगर उसका कोई पुत्र नहीं है और सैनिक / सेवानिवृत्‍त सेवारत के पुत्र को कानूनी तौर पर गोद लेना शामिल हों।212
(ख)सर्वोत्‍तम खिलाड़ी (राष्‍ट्रीय / राज्‍य और वो; जिन्‍होने जिला / कॉलेज / राज्‍य में स्‍कूल / विश्‍वविद्यालय / बोर्ड चैम्पियनशिप का प्रतिनिधित्‍व किया हों और पहला या दूसरा स्‍थान अर्जित किया हों।235
(ग)वो अभ्‍यर्थी जो लंबे समय से गरीबी क्षेत्रों से संबंधित हैं और जो अधिक उम्र श्रेणी में शामिल होने की इच्‍छा रखते हैं परन्‍तु परंपरागत पेशे में लगे हुए परिवारों से हैं। यह राहत, केन्‍द्र कमांडेंट या डीडीजी आरटीजी (राज्‍यों) के विवेक पर दी जा सकती है।शून्‍यशून्‍य2
  • जम्‍मू और कश्‍मीर (कम जम्‍मू, सांभा और कठुआ जिला) और का‍रगिल जिले सहित लद्दाख क्षेत्र
  • उत्‍तराखंड राज्‍य। उत्‍तरकाशी जिले की बटवारी तहसील, रूद्रप्रयाग जिले की ओक्‍हीमठ तहसील, चमोली जिले की जोशीमठ तहसील, बेरीनाग, दीदीहाट, धारचूला और पिथौरागढ़ जिले की मुंशीआरी तहसील।
  • हिमाचल प्रदेश। लाहुल, किन्‍नौर जिला – स्‍पीति।
  • गुजरात राज्‍य। कच्‍छ जिले की रपार और लखपत तहसील।
  • पूर्वोत्‍तर राज्‍य। असम, त्रिपुरा और मेघालय राज्‍य।
  • राजस्‍थान राज्‍य। जैसलमेर और बाड़मेर जिले और जोधपुर जिले की शेरगढ़, ओसियान और फालाउडी तहसील।
  • पंजाब राज्‍य। पंजाब से अभ्‍यर्थी, जो अंतरराष्‍ट्रीय सीमा (आईबी) से 20 किमी. की हवाई दूरी भीतर अधिवासित हों।
  • अंडमान और निकोबार द्वीप समूह। अधिवासी।
  • कक्षा / समुदाय। सभी गोरखा (नेपाली और भारतीय)।

कक्षा 8वीं उत्‍तीर्ण

  • जम्‍मू और कश्‍मीर राज्‍य। कारगिल जिले सहित लद्दाख क्षेत्र।
  • सिक्किम राज्‍य।
  • अंडमान और निकोबार द्वीप समूह। आदिवासियों और आदिम।
  • लक्षद्वीप और निकोबार द्वीप समूह।
  • पूर्वोत्तर राज्यों। मणिपुर, मिजोरम, नागालैंड और अरुणाचल प्रदेश।
  • वर्ग / समुदाय। भारत के सभी राज्यों से अनुसूचित जनजातियों।
अतिरिक्‍त बोनस अंकों का अनुदान या ग्रांट:

निम्‍नलिखित बोनस अंक, उल्‍लेखित श्रेणियों के तहत लिखित परीक्षा में योग्‍यता पर दिए जाएंगे:

क्रम संख्‍याश्रेणीसैनिक सामान्‍य ड्यूटी (कुल अधिकतम अंक 200)सैनिक सीएलके / एसकेटी, सैनिक टेक, सैनिक एनए (कुल अधिकतम अंक 150)ट्रैड्समैन (कुल अधिकतम अंक 200)
(a)एसओएस / एसओईएक्‍स / एसओडब्‍ल्‍यूडब्‍ल्‍यू / एसओडब्‍ल्‍यू (सिर्फ एक पुत्र)20 अंक20 अंक20 अंक
(b)खिलाड़ी (राष्‍ट्रीय / राज्‍य स्‍तर)20 अंक20 अंक20 अंक
(c)एनसीसी ‘ए’ प्रमाणपत्र05 अंक05 अंक05 अंक
(d)एनसीसी ‘बी’ प्रमाणपत्र10 अंक10 अंक10 अंक
(e)एनसीसी ‘सी’ प्रमाणपत्रसीईई से छूट15 अंकसीईई से छूट
(f)अभ्‍यर्थी, जिन्‍हे डीओईएसीसी सोसायटी के द्वारा O+ स्‍तर का कम्‍प्‍यूटर प्रमाणपत्र जारी किया गया है।15 अंक (सिर्फ सैनिक सीएलके / एसकेटी के लिए)

नोट :

  • ऊपर दिए गए अंक, एक अभ्‍यर्थी की योग्‍यता के आधार पर तय किये जाते हैं और सीईई में उसके प्रदर्शन से कोई संबंध नहीं होता है।
  • सिर्फ एक प्रकार के बोनस अंक (अनुमेय की अधिकता), योग में जोड़े जाएंगे। विस्‍तृत करने के लिए, सैनिक सामान्‍य ड्यूटी के लिए, एनसीसी ‘बी’ प्रमाणपत्र के साथ सेवानिवृत्‍त सैनिक के पुत्र को सिर्फ 20 अंक प्राप्‍त होगें, न कि 20+10 = 30 अंक।
सेना भर्ती कार्यालय का विवरण
क्रम संख्‍यामुख्‍यालय आरटीजी जोनराज्‍य, केन्‍द्र शासित प्रदेश और जिले
मुख्‍यालय आरटीजी जोन, अंबालाहरियाणा, (गुडगांव, फरीदाबाद, मेवट और पलवल के अलावा जिले) हिमाचल प्रदेश और चंडीगढ
हरियाणा (गुडगांव, फरीदाबाद, मेवट और पलवल के अलावा जिले)
1.आरओ (मुख्‍यालय) अंबालाअंबाला, करनाल, कुरूक्षेत्र, केन्‍द्र शासित प्रदेश चंडीगढ व यमुनानगर, पंचकुला जिले
2.एआरओ, रोहतकरोहतक, सोनीपत, झांझर और पानीपत जिले
3.एआरओ, हिसारहिसार, सिरसा, जिंद, फतेहाबाद और काईथल जिले
4.एआरओ, चरखी दादरीमोहिंदनगर, भिवानी और रेवाड़ी जिले
हिमाचल प्रदेश
5.एआरओ, पालमपुरचम्‍बा और कांगडा जिले
6.एआरओ, हमीरपुरहमीरपुर, ऊना और बिलासपुर जिले
7.एआरओ, शिमलाशिमला, सोलन, सिरमौर और किन्‍नौर जिले
8.एआरओ, मंडीमंडी, कुल्‍लु और लाहौल स्‍पीति स‍ब-डिवीजन जिले
मुख्यालय आरटीजी जोन, बंगलौरकर्नाटक, केरल और केन्‍द्र शासित माहे व लक्षद्वीप
कर्नाटक
9.आरओ (मुख्‍यालय) बंगलौरबंगलौर शहर, बंगलौर ग्रामीण, कोलार, चामराजनगर, मैसूर, मंड्या, तुमकुर, रामानगर, चिकबल्‍लापुरा, बागालकोट, गदग और हावेरी।
10.एआरओ, बेलगामबेलगाम, बीदर, गुलबर्गा, रायचूर, बेल्‍लारी, कोप्‍पल और यादगीर जिले।
11.एआरओ, मंगलौरचिकमागालुर, दक्षिण कन्‍नड़, उत्‍तर कन्‍नड़, हस्‍सान, कोदागु, शिमोगा, उडुपी, चित्रदुर्गा, दबनगिरि, बीजापुर और धरबाद जिले।
12.एआरओ, त्रिवेंद्रमत्रिवेंद्रम, कोल्‍लम, अल्लेप्पी, एर्नाकुलम, कोट्टायम, इडुक्की और पथानामथिट्टा जिले।
13.एआरओ, कालीकटकालीकट, कसरगोड, पालघाट, मालापुरम, वायनाड, कैन्‍नुर, त्रिचुर और केन्‍द्र शासित माहे और लक्षद्वीप।
मुख्यालय आरटीजी जोन, चेन्‍नईतमिलनाडु, आंध्रप्रदेश, केन्‍द्र शासित पांडिचेरी और अंडमान और निकोबार द्वीप समूह
तमिलनाडु
14.आरओ (मुख्‍यालय) चेन्‍नईचेन्‍नई, तिरूवल्‍लूर, कांचीपुरम, वेल्‍लौर, कुड्डालुर, वीलूपुरम और तिरूवन्‍नामलाई जिले। केन्‍द्र शासित पांडिचेरी। पुदुचेरी जिला। अंडमान और निकोबार द्वीप समूह। अंडमान और निकोबार जिला।
15.एआरओ, तिरूचिरापल्‍लीतिरूचिरापल्‍ली, करूर, पेराम्‍बलूर, अरियालुर, तंजावुर, रामनाथपुरम, तिरूनवेल्‍ली, पुडुकोट्टोई, शिवगंगा, विरूधुनगर, थुथूकुडी (तूतीकोरिन), कन्‍याकुमारी, नागपट्टिनम और तिरूवरूर जिले। केन्‍द्र शासित पांडिचेरी। कराईकल जिले।
16.एआरओ, कोयम्‍बटूरकोयम्‍बटूर, सलेम, नामक्‍कल, नीलगिरि, मदुरई, थेनी, धर्मपुरी, इरोड, डिंडीगुल, कृष्‍णागिरि और तिरपुप्‍पर जिले।
आंध्रप्रदेश
17.आरओ, सिंकदराबादआदिलाबाद, हैदराबाद, करीमनगर, महबूबनगर, मेडक, नालगोंडा, निजामाबाद, वारंगल, खम्‍मम और रंगा रेड्डी जिले।
18.एआरओ, गुंटुरगुंटुर, कुड्डापा, कुरनुल, नेल्‍लोर, प्रकाशम, अंनतपुर और चित्‍तौड़ जिले
19.एआरओ, विशाखापत्‍तनमविशाखापत्‍तनम, सिरकाकुलम, पूर्व और दक्षिण गोदावरी, विजईनगरम और कृष्‍णा (विजयवाड़ा) जिले। केन्‍द्र शासित पांडिचेरी। यनम जिला।
मुख्यालय आरटीजी जोन, दानापुरबिहार और झारखंड
बिहार
20.आरओ (मुख्‍यालय), दानापुरपटना, भोजपुर, वैशाली, सरन (छपरा), बक्‍सर, सिवान और गोपालगंज जिले।
21.एआरओ, मुजफ्फरपुरमुजफ्फरपुर, दरभंगा, मधुबानी, पूर्व और पश्चिमी चम्‍पारन, सीतामढ़ी, समस्‍तीपुर और सियोहर जिले।
22.एआरओ, गयागया, औरंगाबाद, नाबादा, नालंदा, रोहतास, काईमुर (भावुआ), जाहानाबाद, शेखपुरा, लाखी सराई, अरवाल और जामुई जिले।
23.एआरओ, काटीहरहाटीहर, सहरसा (कोसी), भागलपुर, मुंगेर, माधेपुरा, पुरनिया, बंका, अररिया, किसानगंज, सुपौल, खागरिया और बेगुसराई जिले।
झारखंड
24.आरओ, रांची , Ranchiरांची, पूर्व और पश्चिम सिंहभूम, धनबाद, हजारीबाग, गिरिधि, गुमला, लोहारदागा, छत्र, बोकारो, कोर्डेमा, दुमका, जमटाडा, सराईकेला, सिमदेगा, गोड्डा, साहेबगैंग, पाकुर, जमतारा, पालामु, गरवाड, लातेहर और खुंती जिले।
 मुख्यालय आरटीजी जोन, जबलपुरमध्‍यप्रदेश और छत्‍तीसगढ़
मध्‍यप्रदेश
25.आरओ (मुख्‍यालय), जबलपुरजबलपुर, शाहदोह, मंडला, बालाघाट, रेवा, सतना, नर्सिंगपुर, सिओनी, सिधि, कटनी, दिनौरी, उममरिया, अन्‍नुपुर, पन्‍ना और दिमोह जिले।
26.एआरओ, ग्‍वालियरग्‍वालियर, भिंड, मुरैना, दातिया, शिवपुरी, शोपुर, गुना, टिकमगढ़, छत्रपुर और अशोक नगर जिला।
27.एआरओ, म्‍हाऊइंदौर, देवास, झाबुआ, मंडसौर, रतलाम, धार, उज्‍जैन, नीमुच, बुरहानपुर, बाडवानी, खारगोन और खांडवा जिला।
28.एआरओ, भोपालभोपाल, सीहोर, रायसेन, सौगुर, हरदा, छिंदवाडा, बैतूल, होशंगाबाद, विदिशा, राजगढ़ और शाजापुर जिले।
छत्‍तीसगढ़
29.एआरओ, रायपुररायपुर, रायगढ़, सरगुजा, राजंदगांव, कोरबा, धमतारी, दुर्ग, बिलासपुर, बस्‍तर, महासामुंद, जनगीर चम्‍पा, जसपुर, दांतेवाडा, कानकेर, कावारधा, कोरिया, चम्‍पा और बीजापुर जिले।
मुख्यालय आरटीजी जोन, जयपुरराजस्‍थान
30.आरओ (मुख्‍यालय), जयपुरजयपुर, नागौर, सिकार और टोंक जिले।
31.एआरओ, अल्‍वरअल्‍वर, भरतपुर, दौसा, धौलपुर, करौली और सवाईमाधोपुर जिले।
32.एआरओ, झुझहुनुझुझहुन, चुरू, हनुमानगढ़, बीकानेर, श्रीगंगानगर और जैसलमैर जिले।
33.एआरओ, जोधपुरजोधपुर, पाली, सिरौही, जलौर, बारमेर, उदयपुर, दुंगारपुर और बंसवारा जिले।
34.एआरओ, कोटाकोटा, बूंदी, चित्‍तौड़गढ़, बारेन, राजसामंद, झालवर, अजमेर और भिलवारा जिले।
मुख्यालय आरटीजी जोन, जालंधरपंजाब और जम्‍मू व कश्‍मीर
पंजाब
35.आरओ (मुख्‍यालय), जालंधरजालंधर, होशियारपुर, कपूरथला और नावाशाहर जिले।
36.एआरओ, अमृतसरअमृतसर, गुरदासपुर और तार्न तारन जिले।
37.एआरओ, फिरोज़पुरफिरोज़पुर, फरीदकोट, भटिंडा और मुख्‍तसर जिले।
38.एआरओ, पटियालापटियाला, सानगुर, फतेहगढ़ साहिब और मनसा जिले।
39.एआरओ, लुधियानालुधियाना, रूपानगर, सास नगर (मोहाली) और मोगा जिले।
जम्‍मू और कश्‍मीर
40.एआरओ, जम्‍मूजम्‍मू, कठुआ, पूंछ, उधमपुर, डोडा, राजौरी, सांभा, रामाबान, रेसई और किश्‍तवार जिले।
41.एआरओ, श्रीनगरश्रीनगर, अनतंनाग, बारामुला, फुलवामा, बडगाम, कुपवारा, कारगिल, लेह, सोपियां, गांदेरबल, बोंदीपोरा और पदम जिले।
मुख्यालय आरटीजी जोन, कलकत्‍तापश्चिम बंगाल, सिक्किम और ओडिसा
पश्चिम बंगाल
42.आरओ (मुख्‍यालय), कलकत्‍ता24 प्रांगण (दक्षिण), कलकत्‍ता, मिदनापुर (पूर्व और पश्चिम दोनों) और हावड़ा जिले।
43.एआरओ, सिलिगुड़ीकोच्‍छ बेहार, जलपाईगुड़ी, उत्‍तर दीनाजपुर, दक्षिण दीनाजपुर, माल्‍दा, दार्जिलिंग जिले और सिक्किम राज्‍य।
44.एआरओ, बरर्राकपोर कैंट24 प्रांगण (उत्‍तर) हुगली, बानकुरा और पुरूलिया के जिले।
45.एआरओ, बहरामपुरमुर्शिदाबाद, बुरूदवान, नादिया और बीरभूम जिले।
ओडिया
46.एआरओ, कटककटक, पुरी, बालासोर, मयूरभंज, भाद्ररक, जगतसिंहपुर, जाजपुर, केन्‍द्रपारा, खुरदा और नायागढ़ जिले।
47.एआरओ, संबलपुरसंबलपुर, किन्‍जौर, सुंदेरगढ़, बारगढ़, अंगुल, देवगढ़, झासुगुरा, सोनापुरा, बोलानगिर और धेनकनल जिले।
48.एआरओ, गोपालपुर कैंटकालाहांडी, कोरापट, बौध, गजापति, मालकनगिरि, नावआपाडा, नवरंगपुर, कंधामल (भुलवानी) रायगढ़ और गंजम जिले।
मुख्यालय आरटीजी जोन, लखनऊउत्‍तर प्रदेश और उत्‍तराखंड
उत्‍तर प्रदेश
49.आरओ (मुख्‍यालय), लखनऊलखनऊ, गोंडा, उन्‍नाव, कानपुर देहात, बाराबंकी, कानपुर नगर, फतेहपुर, हमीरपुर, महोबा, बांदा, चित्रकूट, अम्‍बेडकरनगर, औरया और कन्‍नौज जिले।
50.एआरओ, मेरठमेरठ, सहारनपुर, बिजनौर, मुजफ्फरनगर, गाजियाबाद, बुलंदशहर, बागपत, गौतम बुद्ध नगर, ज्‍योतिबा फुले नगर, मुरादाबाद और रामपुर जिले।
51.एआरओ, बरेलीबरेली, बदायूं, पीलीभीत, शाहजहांपुर, हरदोई, सीतापुर, लखीमपुरखीरी, फरूर्खाबाद, बहराइच, श्रावस्‍ती और बलरामपुर जिले।
52.एआरओ, आगराआगरा, मथुरा, इटावा, झांसी, जालौन, फिरोजाबाद, ललितपुर, मैनपुरी, महा माया नगर, एटा और अलीगढ़ जिले।
53.एआरओ, वाराणसीमिर्जापुर, वाराणसी, जौनपुर, गाजीपुर, संत रविदास नगर, आजमगढ़, बलिया, गोरखपुर, मऊ, सोनभद्र, चंदौली और देवरिया जिले।
54.एआरओ, अमेठीरायबरेली, इलाहबाद, प्रतापगढ़, कौशाम्‍बी, अम्‍बेडकरनगर, फैजाबाद, सुल्‍तानपुर, बस्‍ती, संत कबीर नगर, सिद्धार्थ नगर, कुशीनगर और महाराजगंज जिले।
उत्‍तराखंड
55.एआरओ, लैंसडाउनटिहरी गढ़वाल, उत्‍तरकाशी, रूद्र प्रयाग, चमोली, देहरादून, पौड़ी गढ़वाल और हरिद्धार जिले।
56.एआरओ, अल्‍मोड़ाअल्‍मोड़ा, बागेश्‍वर, उधम सिंह नगर और नैनीताल जिले।
57.एआरओ, पिथौरागढ़पिथौरागढ़ और चम्‍पावत जिले।
मुख्यालय आरटीजी जोन, पुणेमहाराष्‍ट्र, गुजरात और केन्‍द्र शासित प्रदेश दमन, दिहु, दादर और नागर हवेली और गोआ
महाराष्‍ट्र
58.आरओ (मुख्‍यालय), पुणेपुणे, अहमदनगर, ओसमानाबाद, भीड और लातूर जिले।
59.एआरओ, मुम्‍बईमुम्‍बई, थाणे, नासिक, मुम्‍बई, सुब्रब और रायगढ़ जिले।
60.एआरओ, नागपुरनागपुर, वर्धा, भंडारा, यावातमल, अकोला, अमरावती, चंद्रपुर, गढ़चिरौली, गोंदिया और वाशिम जिले।
61.एआरओ, कोल्‍हापुरसतारा, कोल्‍हापुर, सांगली, रत्‍नागिरि, सिंधुदुर्ग, शोलापुर जिले और गोआ राज्‍य।
62.एआरओ, औरंगाबादऔरंगाबाद, परभणी, नांदेड, जालना, बुलढाणा, हिंगोली, नंदुरबार, धुले और जलगांव जिले।
गुजरात
63.एआरओ, अहमदाबादबड़ौदा, अहमदाबाद, खेड़ा, सूरत, वलसाड़, भुरूच, मेहसाणा, साबरकांठा, आणंद, दाहोद, नर्मदा, नावासारी, पाटन, पंचमहल, डांग, बानसकांठा, गांधीनगर और तापी जिले। दमन (केन्‍द्र शासित) और दादर व नागर हवेली (केन्‍द्र शासित)
64.एआरओ, जामनगरराजकोट, जामनगर, अमरेली, भावनगर, जूनागढ़, भुज, सुरेन्‍द्रनगर और पोरबंदर जिले। दिहु (केन्‍द्र शासित)
मुख्यालय आरटीजी जोन, शिलांगअसम, मेघालय, अरूणाचल प्रदेश, नागालैंड, मणिपुर और त्रिपुरा
65.आरओ (मुख्‍यालय), शिलांगमेघालय, पूर्व खासी पहाडि़यों, पश्चिमी खासी पहाडि़यों, जैंतिया पहाडि़यों, रि भोई, पूर्व गारो पहाडि़यां, दक्षिण गारो पहाडियां और पश्चिमी गारो पहाडि़यां जिले। असम मोरीगांव, नागांव और सोनीतपुर।
66.एआरओ, जोरहाटअरूणाचल प्रदेश पश्चिमी और पूर्वी सियांग, दिबांग घाटी, लोहित, तिरप, छंगलैंड, लोअर सुबानसिरी, अपर सुबानसिरी, तवांग, पूर्वी कामेंग, पश्चिम कामेंग, अपर सियांग, कुरूंग कामांग, पापुमपारे, अंजन हवाई और लोअर दिबांग घाटी जिले। असम, जोरहाट, तिनसुकिया, शिवसागर, धेमाजी, उत्‍तरी लखीमपुर, डिब्रुगढ़, गोलाघाट और कार्बी आंगलोंग।
67.एआरओ, नारंगीअसम, बारपेटा, गोलपारा, दाररंग, कामरूप, नलबारी, कोकरझार, धुब्री, बोनगाईगांव, बक्‍सा, उदयगिरि और चिरांग जिले।
68.एआरओ, रंगपहाड़नागालैंड। कोहिमा, फेक, मोन, जुंहिबोटो, वोखाह, मोकोउचुंग, तुएगसांग, दीमापुर, पेर्न, केफेरे और लोंगलेंग जिले। मणिपुर। उखरूल, बिश्‍नुपुर, थोबल, चुराचांदपुर, तामेंगलांग, सेनापति, चंदेल, इम्‍फाल पूर्व और इम्‍फाल पश्चिम।
69.एआरओ, सिलचरअसम। कछार, उत्‍तरी कछार पहाडि़यां, करीमगंज और हाईलाकांडी जिले। त्रिपुरा। पश्चिमी त्रिपुरा, उत्‍तरी त्रिपुरा, दक्षिणी त्रिपुरा और धलाई।
70.एआरओ, आईजोलमिजोरम। आईजोल, लुंगलेई, मामित, च्मितुईपुई, लॉनगतलाई, चम्‍पाई, सिचिप्‍प और कोलासिब जिले।
जीआरडी कुनराघाट (गोरखपुर)नेपाल
71.जीआरडी, कुनराघाटमहाकाली, सेती, भेरी, राप्‍ती, कारनाली, धौलागिरि, लुम्बिनी, गंडकी, नारायणी आंचल और नेपाल का बागमती।
72.जीआरडी, घूमजनकपुर सागरमाथा, कोशी, मेच्‍छी के आंचलों सहित के लिए पूर्वी नेपाल से एनएनजी और दार्जिलिंग जिले से आईएनजी (कालीम्‍पोंग सब डिवीजन के अलावा)
आईआरओ, दिल्‍ली कैंटदिल्‍ली और गुडगांव, फरीदाबाद, मेवत और हरियाणा राज्‍य का पलवल जिला
73.आईआरओ, दिल्‍ली कैंटदिल्‍ली, हरियाणा, गुडगांव, फरीदाबाद, मेवात और पलवल जिले।

सेना भर्ती के लिए योग्यता

भारतीय सेना जीडी में शामिल होने के लिए, उम्मीदवार को मैट्रिक पास होना चाहिए, या विज्ञान और अंग्रेजी विषयों के साथ कुछ समकक्ष परीक्षा होनी चाहिए। भारतीय सेना जीडी (एनईआर) परीक्षा में प्रवेश पाने के लिए यह न्यूनतम शैक्षणिक आवश्यकता है।

आयु का निर्धारण

उम्मीदवार के मूल दस्तावेजों के अनुसार उम्मीदवार का आयु समूह 17½ से 21 वर्ष के बीच होना चाहिए।

वैवाहिक स्थिति (सेना भर्ती योग्यता)

उपरोक्त सभी बिंदुओं पर उम्मीदवार अविवाहित पुरुष होना चाहिए।

शारीरिक मानक और पात्रता – सेना भर्ती के लिए योग्यता

सर्वश्रेष्ठ उम्मीदवारों की भर्ती के लिए, भारतीय रक्षा सरकार द्वारा गठित भौतिक मानकों के सेट हैं। भौतिक मानदंड निम्नलिखित हैं।

  • उम्मीदवार की ऊंचाई 167Cm होनी चाहिए। यह मानदंड उम्मीदवारों के क्षेत्र के अनुसार और अधिकतर गोरखा उम्मीदवारों के लिए छूट दी जा सकती है।
  • विस्तार के बाद उम्मीदवार की न्यूनतम छाती 77 सेमी से कम नहीं होनी चाहिए, 5 सेमी का न्यूनतम विस्तार होना चाहिए।
    उम्मीदवार का वजन 50 किलोग्राम से कम नहीं होना चाहिए।
  • उम्मीदवार को संचारी रोगों और हृदय, संक्रमण, सर्जरी आदि से मुक्त होना चाहिए। उम्मीदवार को किसी मानसिक रोग का अतीत नहीं होना चाहिए। नाक, कान और गला पूरी तरह से काम करना चाहिए।
भारतीय सेना भर्ती योग्यता के लिए राष्ट्रीयता

अखंडता बनाए रखने के लिए, भारत की रक्षा सरकार ने राष्ट्रीयता के लिए समान या विभिन्न देशों से भारतीय सेना में शामिल होने के लिए निम्नलिखित नियम निर्धारित किए हैं। राष्ट्रीयता के मानदंड इस प्रकार हैं।

  • भारत के सभी उम्मीदवार भारतीय सेना में शामिल हो सकते हैं (योग्यता से अधिक योग्यताधारी)।
  • नेपाल और भूटान की राष्ट्रीयता रखने वाले उम्मीदवार भारतीय सेना में शामिल हो सकते हैं।
  • भारत में स्थायी रूप से बसे तिब्बती शरणार्थी, जो 1 जनवरी 1962 से पहले भारत आए थे, भी आवेदन कर सकते हैं।

निवेदन – आप सभी से निवेदन है कि इस लिंक सेना में भर्ती के लिए योग्यता (सेना भर्ती योग्यता जानकारी) को अपने दोस्तों को वाट्स एप गुप एवं फेसबुक या अन्य सोशल नेटवर्क पर अधिक से अधिक शेयर करें और उनको भी अच्छा रोजगार पाने में उनकी मदद करें।

Q1: सेना में भर्ती होने के लिए क्या योग्यता चाहिए?

Ans : SSLC / मैट्रिक (हाईस्‍कूल) / बारहवीं उत्‍तीर्ण

Q2: आर्मी भर्ती में उम्र कितनी चाहिए?

Ans : साढ़े 17 साल से 23 साल

Q3: आर्मी में नौकरी कैसे लगती है?

Ans: लिखित परीक्षा, फिजिकल टेस्ट & मेडिकल टेस्ट में पास होना बहुत जरुरी है।

Q4: आर्मी में सीना कितना लेते हैं?

Ans: बिना फुलाए कम से कम 77 सेंटीमीटर और फुलाने पर कम से कम 82 सेंटीमीटर

Updated: September 2, 2022 — 4:34 pm

The Author

अमित कुमार

नमस्कार दोस्तों, मेरा नाम अमित कुमार है और मैं jobalerthindi.com का कंटेंट राइटर हूँ। यह एक हिंदी ब्लॉग है जिसमें आपको सभी विभागों में सरकारी नौकरी 2022-23 व इससे संबंधित अन्य प्रकार की जानकारी मिलेगी।

1 Comment

Add a Comment
  1. I love army

Leave a Reply

Your email address will not be published.